तीर्थंकर भगवानकी Best Jain Dharma Spiritual Stuti Quotes

तीर्थंकर भगवानों की Jain Dharma Spiritual Stuti Quotes

वही जशे तमारा पण आँखमां थी,आँसूं नी धारा,ओ महाविदेहवासी श्री, डिजिटल है पहेले से ही कर्मसत्ता,वीर तारू शरणू मल्यू, केवा म्हारा भाग्य जाग्या….इस तरह की तीर्थंकर भगवानकी Best Jain Dharma Spiritual Stuti Quotes Post द्वारा हम कुछ बेहतरीन Jain Tirthankara भगवान की स्तुति Stuti को पेश करते है|

तीर्थंकर भगवान वो सिद्ध आत्मा मानी जाती है जो जन्म-मरन के चक्रव्यू से मुक्त हो के मोक्ष स्थित है ! उन तीर्थंकर भगवान के चरित्र से, आदर्श से हमे बहुत कुछ सीखने को मिलता है, ताकि हम भी अपने जीवन मे Satisfaction को पा सके और life को सुकून से जी सके ! Parents, बच्चों और युवाओं के लिए very very useful मेरी किताब “Motivation for Youth Success” बड़े भी कभी बच्चे थे Amazon पर आप यहा से पढ़ सकते है |

Jain Dharma Spiritual Stuti Quotes For Peace Of Life

वही जशे तमारापण आँखमांथी, Vahi jashe tamarapan aankh…,

वही जशे तमारापण आँखमांथी आँसूंनी धारा ….,

ओ महाविदेहवासी श्री सिमंधर दादा…,

भरतक्षेत्र आवीने तो जुओ ….!!!

नहीं तो अमने महाविदेह बोलावी तो ल्यो !!!

Vahi jashe tamarapan aankh mathi aasu ni dahra,

Oo mahavideh vasi shree simandhar dada,

bharat shektra aavine to juo,

nahi to amne mahavideh bolavi to lyo !!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

आपकी प्रतिमा कुछ, एसी रोशनी.., Aapaki pratima kuchh..

आपकी प्रतिमा कुछ एसी रोशनी फैलाती है..,

आपके वचन जीवन को धन्य क्यों न बनाए !!

करूणासागर, वीर तु करूणा कुछ यूं बरसाए….,

अधमसे अधम की भी अकल तु ठिकाने ले आए !!

Aapaki pratima kuchh esi roshani phailaati hai..,

aapake vachan jivan ko dhanya kyon na banae !!

karunasaagar, veer tu karuna kuchh yoon barasae….,

adhamase adham ki bhi akal tu thikaane le aae !!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

कर्म सत्ता नही करेगी भेद अपने और…,Karm satta nahi karegi bhed

कर्म सत्ता नही करेगी भेद अपने और पराये का…,

करलो चेक बेलेन्स अपने अपने सारे कर्मों का…,

चूकाना तो पड़ेगा ही टेक्स कर्म की इनकम का..,

नही चलेगी वहाँ कोई टैक्स की चोरी, क्योंकि…

डिजिटल है पहेले से ही कर्म सत्ता हमारी ….!!!

Karm satta nahi karegi bhed apane aur paraye ka…,

karalo chek balans apane apane saare karmon ka…,

chukaana to padega hi tax karm ki income ka..,

nahi chalegi vahan koi tax ki chori, kyonki…

digital hai pahele se hi karm satta hamari ….!!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

तारों अने मारो सगपण तो….Taaron ane maaro sagapan ….,

तारों अने मारो सगपण ….,

तो बहुज जुनो छे प्रभु …!!

एटलेज तो तू आजे पण …..,

मारा मनमाज वस्यो छे ….!!

कोयनीये ताकाद नथी …..,

पलभर पण विसारी दे मनथी मारा,

तारा दर्शन शास्त्रथीज तो जीती जाऊ छुँ,

हुँ संसारना युद्ध सारा ….!!!

Taaron ane maaro sagapan ….,

to bahuj juno chhe prabhu …!!

etalej to tu aaje pan …..,

maara manmaaj vasyo chhe ….!!

koyaneeye taakaad nathee …..,

palabhar pan visaari de manathi maara,

taara darshan shaastrathij to jiti jau chu,

hun sansaarana yuddh saara ….!!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

वैसे तो बहोत कुछ है ईस जहान मे…Vaise to bahot kuchh hai…,

वैसे तो बहोत कुछ है ईस जहान मे,

पर प्रभू तेरे सिवा सब कुछ शून्य है,

ये तो मेरी खुशकिस्मती है की …..,

मेरे ह्रदय मे तेरे सिवा कुछ नही है !!!

Vaise to bahot kuchh hai is jahan mai,

par prabhu tere siva sab kuchh shoony hai,

ye to meri khushakismati hai ki …..,

mere hraday me tere siva kuchh nahi hai !!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

हरेक प्राणी मात्र पर दया दिखलाए वो…Harek praani maatr par daya…,

हरेक प्राणी मात्र पर दया दिखलाए वो धर्म होता है ,

अपने कर्मों का हिसाब रखा जाए वो धर्म सिखाता है ,

“सर्वे भवंतु सुखिनाम्” की भावना धर्म जगाता है ,

“सवी जीव करू शासन रसी” चेतना मौक्ष दिलाता है !

Harek praani maatr par daya dikhalae vo dharm hota hai ,

apane karmon ka hisaab rakha jae vo dharm sikhaata hai ,

“sarve bhavantu sukhinaam” ki bhaavana dharm jagaata hai ,

“savi jiv karu shaasan rasi” chetana mauksh dilaata hai !

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

तूज मूख निरखीने हुँ धन्य थई…Tuj mukh nirkhine hu dhanya…,

तूज मूख निरखीने हुँ धन्य थई जाऊ छुँ प्रभु,

ए भाग्य छे म्हारा पंचमकाले पण हुँ तूझने ध्याऊ छुँ,

तारी साक्षी ए आजे आ प्रण लऊँ छुँ प्रभु के,

शासन प्रभावना माटेज बस लेतो रहू हर एक श्र्वास,

Tuj mukh nirkhine hu dhanya thai jau chu prabhu..,

e- bhagya che mahra panchamkale pan hu tuzne dyaun chu,

tari sakshi e aaje aa pran lau chu prabhu ke..,

shasan prabhavna matej bas leto rahu har ek shavas

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

वीर तारू शरणू मल्यू केवा म्हारा भाग्य…Veer taru sharnu malua…,

वीर तारू शरणू मल्यू केवा म्हारा भाग्य जाग्या !!

नाथ तारों उपदेश सांभळी भवोभवना पाप दूरे भाग्या !!

तारी सूक्ष्म बुध्दि मारी आँखोंमा आंजळ घालती !!

“केवी रीते जीवु आ जिंदगी”…..,

ए तारा विना मने कोण सीखावे ….!!!

Veer taru sharnu malua keva mahra bhagya jagya

nath taron updesh sambhli bhavobhav na paap dure bhagya

tari sukshm budhhi mari aakhon maa aanjal ghalti

“kevi rite jeevu aa jindgi”

e- tara veena mane kon sikhave

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

हैयामा ऊंडे ऊतरीने जोवी लेवू …Haiya maa unde utrine jovi…,

हैयामा ऊंडे ऊतरीने जोवी लेवू पोतानाज…

बीजे कही जोवानी पछी जरूरत न थाय….!!

वसी जाय एक वार जो प्रभुजी…..,

ए हैया मा कोनीए वसाहत पछी कदीए न थाय….!!

Haiya maa unde utrine jovi levu potanaj

bije kahi jovani pachi jarurat n thay

vasi jaay ek vaar jo parabhuji..,

e- haiyaa maa koniye vasaahat pachi kadiye n thay

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

कितने भवभ्रमणा के बाद….Kitane bhavabhramana ke baad…,

कितने भवभ्रमणा के बाद मिला है यह मानव देह…,

बार -बार ठोकर खाकर भी,सुधरता नहीं है यह जीव…,

सुख-दु:ख की चंचलता तो रात और दिन बयाँ करती है!!

सुख मे संयमी और दु:ख में समाधी ही शोभा देती है!!

Kitane bhavabhramana ke baad mila hai yah maanav deh…,

baar -baar thokar khaakar bhi,sudharata nahi hai yah jeev…,

sukh-du:kh ki chanchalata to raat aur din bayaan karati hai!!

sukh me sanyami aur du:kh mein samaadhi hi shobha deti hai!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

सत्य, दया, अहिंसा, के…Saty, daya, ahinsa, ke..,

सत्य, दया, अहिंसा, के..,

करूणावतार है महावीर …!!

तूझ ज्ञानप्रकाश से हुई …,

सदा प्रज्वलित ये सृष्टी ….!!

Saty, daya, ahinsa, ke..,

karoonaavataar hai mahaaveer …!!

toojh gyaanaprakaash se hui …,

sada prajvalit ye srshti ….!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

किसीने धूल क्या झोंकी आँखों मे…Kisine dhool kya jhonki aankhon…,

किसीने धूल क्या झोंकी आँखों मे,

पहेले से भी बेहतर दिखने लगा,

स्वार्थ की पोलिटिक्स समझते है बखूबी ….,

पर महावीर की करूणा ने मौनव्रत थमा दिया ….!!

Kisine dhool kya jhonki aankhon me,

pahele se bhi behatar dikhane laga,

svaarth ki politiks samajhate hai bakhoobi ….,

par mahaaveer ki karoona ne mauna vrat thama diya ….!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

जिनका नाम मात्र लेने से…,Jinaka naam maatr lene se…,

जिनका नाम मात्र लेने से…,

हमारा रोम हर्षित होता है….!!

पंचमकाल मे भी जिनका….,

हमें शासन नसीब हुआ है….!!

Jinaka naam maatr lene se…,

hamaara rom harshit hota hai….!!

panchamakaal me bhee jinaka….,

hamen shaasan naseeb hua hai….!!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

सर्व जीवों को अभयदान की….,Sarv jeevon ko abhayadaan kee….,

सर्व जीवों को अभयदान की….,

जो सीख दे गए है करूणानिधान…!!

अद्वितीय, अवर्णनीय ऐसे….,

तीर्थंकर परमातमा को नमन…. !!

Sarv jeevon ko abhayadaan kee….,

jo sikh de gae hai karoonaa nidhaan…!!

advitiy, avarnaneey aise….,

teerthankar paramaatama ko naman…. !!

-जय जिनेंद्र….meenajain.com

उपरोक्त पक्तियों मे Mahaveer भगवान सहित सभी तीर्थंकर परमात्मा को नमन और उनकी स्तुति तथा Spiritual positive thoughts इस 13+ Best Jain Dharma Spiritual Stuti Quotes/Shayari Post मे पेश किए है ! जिसे समजकर जीवन मे अपनाए और Life के Satisfaction को समजे, यही मेरी आप सभी से विनंती है !

Jain Dharma Spiritual Stuti post पढ़ने के लिए धन्यवाद दोस्तों….!! इस तरह और भी Suvichar और Positive thoughts हम आपके लिए लिखते रहेंगे ! आप जरूर पढ़िएगा, उन्हे अपनी Life मे उतारने की कोशिश करिएगा और खुश रहिएगा … !

आपके positive thoughts भी यहा Comment section मे share कर सकते है, ताकि औरों को भी उससे motivation मिले ! यह स्तुति रूपी Jain Religion Suvichar आपको कैसे लगे जरूर Comment section मे लिखिएगा , धन्यवाद , जयजिनेंद्र !

Leave a comment